Trucking News
Nitin Gadkari Vouches For Fixed Driving Hours For Commercial Truck Drivers And Onboard Sleep Detection Sensors In Trucks

कोरोना रेड जोन्स में लगातार जोखिम भरा कार्य करने के बावजूद ट्रक ड्राइवर्स सम्मान से वंचित

ट्रक ड्राइवर देश के आर्थिक गतिविधियों का संचालक है । हमारे जीवन का लगभग हर एक हिस्सा ट्रकिंग या ट्रक ड्राइवर से जुड़ा हुआ है। कोरोना काल मे भी ट्रक ड्राइवर अपने जान को जोखिम मे डाल कर इस महामारी से लड़ने मे रात दिन जु टा हुआ है । ट्रकिंग न्यूज इंडिया संवाददाता कुणाल मिश्रा कि रिपोर्ट।

ट्रकिंग न्यूज इंडिया, नई दिल्ली / 28 मई 2020

कुणाल मिश्रा

ट्रकिंग न्यूज इंडिया का ट्रांसपोर्ट सेक्टर पर हुए वेविनार में ट्रक ड्राइवर के सामाजिक पहलू पर विचार विमर्श

ट्रक ड्राइवर देश के आर्थिक गतिविधियों का संचालक है । हमारे जीवन का लगभग हर एक हिस्सा ट्रकिंग या ट्रक ड्राइवर से जुड़ा हुआ है। ट्रक के रुक जाने का मतलब है अर्थव्यवस्था का रुक जाना है लेकिन सामाजिक रूप से ट्रक ड्राइवर के इस अप्रतिम योगदन को हम सम्मान नहीं दे पाते है।

ट्रक ड्राइवर को उनके कार्यों के लिए, हमे जरूर उचित सम्मान देना चाहिए, जो कि देश को चलाने के लिए अति आवश्यक है,

कोरोना काल मे भी ट्रक ड्राइवर्स के लगातार रेड जोन्स में काम करने के साथ साथ, जीवन के लिए जरूरी चीजों के आपूर्ति मे भी अपना योगदान दे रहा है सब्जी, अनाज, दवाई, दूध, फल, रसोई गैस, पेट्रोल, आदि अनेक चीजों कि आपूर्ति को बनए रखने मे अपनी अहम भूमिका निभा रहा है ।

अपनी जान को खतरे मे डाल कर अस्पतालों के लिए काम कर कोराना महामारी से एक योद्धा के तरह ट्रक ड्राइवर भी लड़ रहा है

ऐसे विषम परिस्थि मे ट्रक ड्राइवर के सुरक्षा व समान का ख्याल रखना हम सबका, समाज की जिम्मेदारी है। कारोना से जारी लड़ाई में डॉक्टर्स, नर्स व तमाम मेडिकल स्टाफ को कोराना फाइटर्स व फ्रंटलाइन वॉरियर्स की उपाधि दी जा रही है। देखा जाए तो तो ट्रक ड्राइवर्स का भी उतना ही महत्त्वपूर्ण कार्य कर रहे हैं जितना कि मेडिकल टीम चाहे वह दवाई फैक्ट्रीज से सामान पहुंचना हो, हस्पतालों तक वेंटिलेटर, दवाइयां, पीपई किट या टेस्टिंग मशीन पहुंचाने कि बात हो इसमे ट्रक ड्राइवर्स अहम भूमिका निभा रहे हैं। अस्पताल के सप्लाइ को सुचारु रूप से चलाना ट्रकिंग व ट्रक ड्राइवर के बिना संभव नहीं है। इतना योगदान देने के बाद भी समाज इनके त्याग और हौंसले का वो सम्मान नहीं कर पा रहे है जिनके वो हकदार है ।


ट्रकिंग न्यूज इंडिया के ट्रांसपोर्ट सेक्टर पर हुए वेविनार में पैनलिस्ट ने इस मुद्दे पर हुई चर्चा के दौरान अपनी बात रखते हुए इस बात पर बल दिया कि समाज मे ट्रक ड्राइवर के प्रति सकारात्मक सोच बनाने मे मीडिया को पूरा सहयोग करना चाहिए, जिस तरह से कोरोना युद्ध मे अन्य योद्धा को उनके कार्य को दिखा कर सराहा जाता है उसी तरह ट्रक ड्राइवर के कार्यों को भी दिखाना चाहिए और समाज तक इनके योगदान को पहुचाना चाहिए ताकि ट्रक ड्राइवर को उनका उचित सम्मान मिल सके जिसका हकदार वो है को

ट्रक ड्राइवर्स कोराना काल में श्रेष्ठ कार्य कर रहे हैं और ट्रकिंग न्यूज इंडिया इसकी प्रशंसा करती है और लोगों से अपील करती है आप भी समाज तक इनके कार्यों को लेकर जाए ।

ट्रक ड्राइवर के प्रति समाज मे जो सोचने का तरीका है हमे उसे बदलने की जरूरत है।

ट्रक ड्राइवर्स हाइवै के हीरोज है , उन्हे उनके हक का सम्मान मिले ।

Add comment

We have updated news for you . Mesage uS fo truck related queries.