Trucking News
Tricking News India

लॉकडाउन में फंसे ट्रक ड्राइवर्स से की जा रही ट्रक पार्किंग की भारी भरकम वसूली

लॉकडाउन में फंसे ट्रक ड्राइवर्स से की जा रही ट्रक पार्किंग की भारी भरकम वसूली

कोरोना लॉकडाउन के चलते काफी ट्रांसपोर्टर्स को परेशानियों का सामना करना पड़ा है। सरकार ने सामाजिक सहयोग कि अपील तो कि लेकिन कुछ लोग इस महामारी से लड़ने मे सहयोग करने के बाजए इसे मुनाफाखोरी का जरिया बना लिया, छोटे पैमाने के ट्रांसपोर्टर्स और ट्रक ड्राइवर्स को देश मे कई जगह पर इसका सामना करना पडा, लॉकडाउन के वजह से कई जगह पर ट्रक ड्राइवर्स को मजबूरी मे ट्रक को लंबे समय तक खड़ा करना पड़ा लेकिन ट्रक पार्किंग वाले सहयोग के बजाय ट्रक ड्राइवर से भारी भरकम पार्किंग फीस कि वसूली कर रहा है।

ट्रकिंग न्यूज इंडिया, कुणाल, 3 जून 2020

नई दिल्ली। ट्रांसपोर्टर्स को लॉकडाउन के चलते काफी परेशानियों का सामना करना पड़ा। ऐसे में उनकी मदद के लिए न तो सरकार आगे आई और ना ही ट्रांसपोर्ट एसोसिएशन। बड़े ट्रांसपोर्टर्स की अपेक्षा छोटे पैमाने के ट्रांसपोर्टर्स यानी कि ट्रक ड्राइवर्स को आर्थिक तंगी का सामना ज्यादा करना पड़ा है।

लॉकडाउन का चौथा चरण खुल जाने के बाद से ट्रांसपोर्ट सेक्टर से बेहद चिंतित मामले सामने आने लगे हैं जहां ट्रक ड्राइवर्स पार्किंग में खड़ी अपनी गाड़ियों की कीमत नहीं चुका पा रहे हैं।

दिल्ली के पहाड़गंज, राजस्थान, और उत्तर प्रदेश जैसे कई राज्यों से ऐसे मामले आने लगे हैं जहां ट्रक ड्राइवर्स को कई दिनों से खड़े उनके ट्रक की कीमत हज़ारों रुपयों में चुकानी पड़ रही हैं। पहाड़गंज इलाके में पार्किंग में खड़ी पश्चिम बंगाल की दो ट्रकों की पार्किंग फीस 53000 रुपए तक बन गई थी।

राजस्थान में फंसे ट्रकों की भी है जहां ड्राइवर्स पार्किंग फीस से त्रस्त हो गए हैं। लॉकडाउन के दौरान दूसरे राज्यों में फंसे ट्रक ड्राइवर्स दिल्ली और उत्तर प्रदेश के अलग अलग जिलों में पार्किंग में गाड़ी खड़ी कर अपनी ट्रकों में ही रहने लगे थे करीब 50 दिन गुजारने के बाद जब वे ट्रक लेकर जाने की तैयारी करने लगे तो उनके सामने हज़ारों रुपए का पार्किंग का बिल थमा दिया जा रहा है।

यह खर्च केवल उनके गाड़ी खड़ी करने का है इसमें ट्रक की ईएमआई, उनके खाने पीने का खर्च व उनके अन्य खर्चों से अलग हैं। इस प्रकार की तमाम घटनाएं निकलकर आ रही हैं जहां ट्रक ड्राइवर्स को रियायत देने की बजाय उन्हें पार्किंग शुल्क के नाम पर प्रताड़ित किया जा रहा है।

नकदी व पैसों की कमी, ट्रकों की मरम्मत जैसी अन्य समस्याओं के चलते मौजूदा समय में भी ऐसे तमाम ट्रक ड्राइवर्स हैं जो दूसरे राज्यों से अभी तक नहीं निकल पाए हैं।

सरकार इसका संज्ञान लें और ट्रक ड्राइवर कि मदद करने के लिए तुरंत कदम उठाए

ट्रकिंग न्यूज इंडिया कि रिपोर्ट

Add comment

Follow us

Don't be shy, get in touch. We love meeting interesting people and making new friends.

Most popular

Most discussed